jafarpura,bhagat sodha ram,patiyala
bhagat randheer singh ji,jafarpura,p/o- bhunarheri,patiyala ,punjab
Phone : 9646913502


kamal rana ji

भगत रणधीर सिंह,जफरपुरा.पटियाला
गाओं जाफरपुर,तहसील- भुनारहेरिया ,पटिआला जिला का छोटा सा गाओं है.जिस की आबादी 6oo है.पटियाला से 18 किलोमीटर दूर बसे इस गाओं तक बस द्वारा पहुंचा जा सकता है.यहाँ पर भगत रणधीर सिंह जी का घर है.भगत जी के दादा जी गुग्गा जी और शिव जी कीपूजा करते थे.और आप के पिता जी शिव की पूजा करते थे और नियमित रूप से धुप बाती करते थे .उनकी मृत्यु के बाद परिवार पर संकट आ गया.सारे घरवाले बहुत बीमार हो गए,भगत जी के घर में तीन संताने है,बेटा गुरमुख सिंह,बड़ी लड़की किरणदेवी और छोटी लड़की मंदीप कौर और पत्नी का नाम करनैल कौर है.किरण देवी को सांप ने अंगूठे पर डस लिया जिसका की बहुत इलाज करवाया गया लेकिन दवाई बिलकुल असर नहीं करती थी.किरण देवी को असह पीड़ा थी.आप को गाओं के ही किसी भगत ने बताया की पटियाला में गाओं अलीपुर अराइन में महंत तुलसी रना जी के डेरे पर जाओ तो किरपा हो जाएगी,उस गद्दी पर भगत कमल राणा जी चेला महंत अमरजीत सिंह जी को मिल कर आप ने सब दुःख सुनाये ,किरअ देवी तब बहुत ही ज्यादा पीड़ा में थी और बेहाल थी.कमल राणा जी के स्थान पर केवल आधे घंटे बाद ही किरण देवी को घोर पीड़ा से मुक्ति मिल गई.घर लौटने तक बाकी सारा परिवार भी स्वस्थ था.इस दैवी चमत्कार ने आप के जीवन पर बहुत प्रभाव डाला और आप ने भगत कमल राणा को गुरु धारण कर लिया और उनके हुकम से घर गद्दी लगानी शुरू कीऔर यहाँ आने वाले लोगो के दुःख दूर होने लगे,बिलकुल निशुलक और सेवा भाव से आज तक आप गद्दी किसेवा कर रहे है,सारा जीवन आप ने म्हणत मजदूरी कर के घर चलाया है,बागड़ में राजस्थान यात्रा पर हर साल जाते हैं और गुग्गा जी का गुणगान करते है.इस गाओं में गुग्गा मंदिर नहीं है.आप घर में ही गुग्गा जी के भगतो की सेवा हेतु मिलते है.

Designed, Developed & Hosted By : Public News Times