sanaur,baba asmaan puri ji,
DERA BABA ASMAAN PURI JI ,SANAUR ,PATIALA( punjab)
Phone : 9876487009


amar bhagat ji

क़स्बा सनौर की पवन धरती पर बहुत सरे सिद्ध पीर हुए है. उन्ही में से एक बाबा असमान पुरी जी थे.इस डेरे का इतिहास 250 साल पुराना है.अमर भगत जी ने इस स्थान की सेवा की. अमर भगत जी को इस स्थान का ज्ञान हुआ तो उन्होंने इस जगह बाबा जी का स्थान बनवाया. भगत जी मॉस और शराब का सेवन किया करते थे और खेती बड़ी करके अपना जीवन व्यतीत कर रहे थे. एक दिन खेत में पुरानी बेरी का पेड की शाखा को एक व्यक्ति ने काट दिया जिसके बाद उस व्यक्ति की मृत्यु हो गई,उसी पेड के नीचे भगत जी अपने बैल बांधते थे. कुछ दिन बाद उसी बेरी क पास हल चलते हुए बहुत जोरदार आवाज़ आई जिसे सुनकर बैलो की जोड़ी दर कर भागने लगी.और लोग तथा भगत जी भी उस जगह जाने से डरने लगे,तो सनौर के एक महाज्ञानी पंडित जी जो की ज्योतिशाचार्य थे उन्होंने बताया की आप के खेत में बेरी के पेड के नीचे बहुत महान संत का स्थान है .आप उस स्थान की सेवा कीजिये और सरे नशे और मास आदि को त्याग कर बाबा जी से क्षमा मांगे.भगत जी ने ऐसी किया तो बाबा जी की किरपा हो गई.भगत जी ने प्रेम भाव से सेवा की और ख्वाजा जी का चालीसा पूरा किया. भगवान शंकर और महाबीर जी के व्रत 36 साल तक रखे.आज भी भगत जी आने वाली संगतों को आदर भाव से मिलते है.यहाँ पे हजारों लोगो कोबाबा जी के आशीर्वाद से संतान प्राप्त हुई.मई महीने में बाबा जी का मेला मनाया जाता है जिस में देश विदेश से श्रद्धालु पहुंचते है.अब भगत जी के भतीजे चन्नी भगत भी दरबार की सेवा करते हैं.मान्यता है की यहाँ जो भी सच्चे मन से प्राथना करता है उसकी मुराद जरूर पुरी होती है.

Designed, Developed & Hosted By : Public News Times