sanyas ashram santoshi mata mandir, nabha
sanyas ashram santoshi mata mandir, ( duladi gate) near hira singh park,nabha
Phone : 9417703030


shri shobha giri ji maharaj

सन्यासी आश्रम संतोषी माता मंदिर ( दूलद्दी गेट ) नजदीक हीरा सिंह गेट , नाभा,
नाभा शहर पंजाब का बहुत ही पुराना और धार्मिक महत्व रखने वाला शहर है. नाभा रयासत बहुत प्रसिद्ध रयासत रही है. पुराने नाभा शहर को पुरानी नाभि नाम से जाना जाता है.नाभा बस स्टैंड से एक किलोमीटर की दूरी पर मंदिरसन्यासी आश्रम संतोषी माता मंदिर जी स्तिथ है.यह मंदिर महाराजा हीरा सिंह के काल से सम्बंधित है. इस धाम की स्थापना स्वामी ननद गिरी जी महाराज जी द्वारा करवाई गई. इस स्थान को विशेष महानता शोभा गिरी जी से मिली. शोभा गिरी जी परम शिव भगत थे.कहा जाता है की भगवन शिव की उस्तति करते हुए उन्हें पाने के लिए आप ने शीशे के टुकड़े से अपना शीश खुद काट कर भोले नाथ को अप्रित कर दिया था. इस भेट से वहां स्थापित शिवलिंग तेज मई हो गया, उसके दर्शन करने वाले उस स्थान से डरने लगे, तो सेवा रत कुछ महात्माओं ने उस शिवलिंग को नदी में प्रवाहित कर एक और शिव लिंग की स्थापना की .उनके बाद महान मंडलेश्वर स्वामी अद्वैता नन्द गिरी जी महाराज ने दस साल इस स्थान पर सेवा की.उनके बाद स्वामी मोहन गिरी जी महाराज जी ने पंद्रह साल सेवा की.उनके बाद महामंडलेश्वर जगदीश्वरानन्द जी ने तक और उनके बाद दिव्यानंद गिरी जी अब तक इस मंदिर के प्रमुख हैं, दिव्यानंद गिरी जी कनखल स्तिथ मोहन जगदीश्वर आश्रम मैं सेवारत हैं.गोविंदानंद जी इस मंदिर के कोठारी हैं जो की वर्ष से इस मंदिर की सेवा कर रहे हैं.
इस मंदिर में वर्ष मैं लगभग एक हजार लोगों के बैठने हेतु सत्संग हाल का निर्माण किया गया . इस मंदिर में जन्माष्टमी ,और मार्च को मूर्ती स्थापना दिवस मनाया जाता है.गढ़वाल निवासी पंडित जगदीश परशाद जी जो कि करम कांडी ब्राह्मण हैं वह इस स्थान की पूजा अर्चना सेवा कर रहे हैं.
इस मंदिर के इतिहास को प्रकाशित करवाने में बलजिंदर कुमार जी ने विशेष रूप से सहयोग किया है. मंदिर कपाट प्रतिदिन सुबह पांच बजे से लेकर रात्रि दस बजे तक खुले रहते हैं.प्रतेयक शुकरवार को माँ संतोषी के मंदिर में भजन कीर्तन होता है. यहाँ पर सच्चे दिल से आने वाले हर एक भगत के कार्य सम्पूर्ण करते हैं. मंदिर में पूजा पाठ या दान आदि देने हेतु मंदिर कमेटी से सम्पर्क किया जा सकता है.

Designed, Developed & Hosted By : Public News Times